वसंत पंचमी के अचूक उपाय | टोटके | पूजा विधि | Date 2017 – Vasant Panchami ke Achuk Upay | Totke | Puja Vidhi | Date 2017

वसंत पंचमी इस साल 1 फरवरी 2017 को आ रही है| वसंत पंचमी का सम्बन्ध माँ सरस्वती जी से है| इस दिन माँ सरस्वती जी की पूजा की जाती है और सब लोग माँ से विद्या और अच्छी बोल बानी की प्रार्थना करते है| ये दिन माघ महीने की शुक्लपक्ष की पंचमी के दिन मनाया जाता है| बच्चो को इस दिन हाथ में कलम और पुस्तके दी जाती है ताकि माँ सरस्वती जी बच्चो को अपना आशीर्वाद दे ताकि वे खूब पड़े और बड़ो का सम्मान करे|

वसंत पंचमी के दिन पूजा आदि करने का विधान है| अगर कोई इस दिन माँ सरस्वती जी की पूजा और आराधना करता है तो निश्चित ही माँ उनपर अपनी कृपा करती है| इस दिन पूजा करने का विशेष विधि विधान होता है| पूजा के इलावा अगर हम कुछ उपाय/टोटके इस दिन कर ले तो हमे माँ सरस्वती जी की कृपा बहुत जल्दी मिलेगी और माँ हमसे जल्दी ही प्रसन्न भी होगी|

वसंत/बसंत पंचमी के अचूक उपाय / टोटके  Vasant/Basant Panchami ke Achuk Upaye/Totke 

तेज दिमाग पाने के लिए ये दिन बहुत ही शुभ है| अपनी बुद्धि को अगर तीव्र करना चाहते है तो इस दिन ये उपाय/टोटके करे| सुबह जल्दी उठ कर स्नानादि से मुक्त होकर सभी ही देवी देवताओ का सामान्य रूप से पूजन करे और माँ काली के मंदिर जा कर माँ कालका के दर्शन करे| उनके सामने हाथ जोड़ कर खड़े हो जाये और अपनी कामना की पूर्ति की प्रार्थना करे तत्पश्चात माँ काली को पेठे की मिठाई का भोग लगाए या श्रद्धा अनुसार फल का भोग लगाए और इस मंत्र का जाप 11 बार करे|

मन्त्र: ॐ ऐं ह्रीं क्लीं महा सरस्वत्यै नम:

वसंत/बसंत पंचमी का अगला उपाय/टोटका उन व्यक्तिओ के लिए जो किसी क़ानूनी केस में फंसे हुए है पर केस का फैसला उनके हक़ में नही आ रहा या आप या आपका कोई निकटम व्यक्ति किसी लंबी बीमारी से जूझ रहा है और परेशानी झेल रहा है या आपके वैवाहिक जीवन की गाड़ी अच्छी नही चल रही मतलब के आपसी मनमुटाव है तो इन सभी परेशानियो को दूर करने का दिन है वसंत पंचमी| इस दिन सुबह जल्दी उठ कर स्नान करने के बाद पीले वस्त्र धारण करे और दुर्गा सप्तशती से अर्गला स्त्रोत एवं कीलक स्त्रोत का पाठ करे| पाठ के पश्चात् अपनी परेशानियो को दूर करने की प्रार्थना करे|

अगला उपाय उन लोगो के लिए जो संगीत के क्षेत्र में कुछ करने की चाहत रखते है या जिनको संगीत बहुत ही ज्यादा पसंद है और इसी क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है तो वे लोग बसंत पंचमी के दिन स्नान करने के उपरांत पिले वस्त्र धारण कर ले| माँ सरस्वती जी की सामान्य विधि से पूजा करे और माँ का ध्यान करते हुए इस मंत्र का जाप २१ बार करे| जाप खत्म होने के बाद माँ सरस्वती को शहद का भोग लगाए और उस प्रसाद रूपी शहद को घर के सभी सदस्यो में बाँट दे|

मन्त्र – ह्रीं वाग्देव्यै ह्रीं ह्रीं

ये बहुत ही सरल और आसान उपाय है| ये उपाय विद्यार्थियो के लिए जो बहुत मेहनत करते है लेकिन उनको सफलता नही मिल पाती तो बसंत पंचमी के दिन ये उपाय करे| वैसे तो आप इस उपाय को किसी भी गुरुवार से आरम्भ कर सकते है पर शुक्ल पक्ष की पंचम तिथि इस उपाय को करने का सबसे अच्छा दिन है| सुबह जल्दी उठ कर स्नान करे| एक स्टील का तांबे की थाली ले| अपने मन के अंदर गणेश जी का ध्यान करते हुए इस थाली में कुमकुम या रोली से स्वास्तिक  बनाये| स्वास्तिक के ऊपर माँ सरस्वती यन्त्र रख ले| 8 नारियल ले और इन्हें थाली के सामने ही रख दे| माँ सरस्वती के यन्त्र के ऊपर फूल, चन्दन एवं अक्षत चढ़ाये और धुप व् घी के दीपक जल कर माँ सरस्वती जी की आरती करे| आरती के उपरांत अपनी मनोकामना के पूर्ति हेतु सरस्वती माता के इस मंत्र का एक माला जाप स्फटिक और तुलसी की माला से करे|

मन्त्र – सरस्वत्यै नम:

जाप के पश्चात पूजन की सारी सामग्री को इकठ्ठा करके जल में प्रवाहित कर दे|

इस उपायो और टोटको को करने से आपको मनवांछित फल की प्राप्ति होगी|  वसंत पंचमी के और उपायो की जानकारी के लिए आप हमारे वशीकरण स्पेशलिस्ट रूद्र बाबा से बात कर सकते है|

जय माँ सरस्वती जी की

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *